अब साल में दो बार होगी जेईई मेन और नीट की परीक्षा

0
1257

इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षा में छात्रों को तनाव से दूर रखने के लिए जेईई मेन और नीट (यूजी) की परीक्षा साल में अब दो बार आयोजित कराई जाएगी। खास बात यह है कि छात्र पहली बार इन परीक्षाओं में मन मुताबिक दिन व समय का चुनाव कर सकेंगे।

साथ ही जिन छात्रों ने 2018 में जेईई मेन और नीट (यूजी) की परीक्षा दी है, वे भी दोबारा परीक्षा में बैठ सकेंगे। उधर, छात्र जनवरी की परीक्षा के लिए 1 से 30 सितंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। परीक्षा 6 से 20 जनवरी के बीच होगी।

रिजल्ट फरवरी के पहले हफ्ते में जारी होगा। दूसरी बार जेईई मेन की परीक्षा अप्रैल में होगी। इसके लिए फरवरी के दूसरे हफ्ते में छात्र ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। परीक्षा 7 से 21 अप्रैल तक होगी। दोनों परीक्षाएं आठ सिटिंग में चार से पांच दिन चलेगी। अप्रैल में होने वाली परीक्षा का रिजल्ट मई के पहले हफ्ते में आएगा।

मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के मुताबिक, जेईई मेन और नीट (यूजी) की परीक्षा साल में दो बार आयोजित होने से छात्रों को तैयारी का मौका मिलेगा। परीक्षा में साइकोमेट्रिक विधि और मानक तकनीकी का इस्तेमाल कर आंकलन किया जाएगा।

जो भी बेहतर रिजल्ट होगा उसे 2019 सत्र के दाखिले में प्राथमिकता दी जाएगी। पहली बार छात्र दिन व समय (आठ डिफरेंट सिटिंग) चुन सकेंगे। उक्त दोनों परीक्षा में जेईई मेन और नीट (यूजी) नियमों के तहत 12वीं कक्षा में पढ़ाई कर रहे छात्र और 12वीं पासआउट छात्र बैठ सकते हैं।

दाखिला फीस व पाठ्यक्रम में अभी बदलाव नहीं
छात्र जेईई मेन और नीट (यूजी) परीक्षा की तैयारी शुरू कर चुके हैं, इसलिए उक्त दोनों परीक्षा का पाठ्यक्रम और प्रश्न-पत्र के पैटर्न में कोई बदलाव नहीं किया गया है। जिस प्रकार पहले पाठ्क्रम से प्रश्नपत्र आ रहे थे, वैसे ही आगामी परीक्षा में भी पूछे जाएंगे। इसके अलावा दाखिला परीक्षा की फीस में भी कोई बदलाव नहीं होगा।

ऑनलाइन नहीं, कंप्यूटर आधारित होगी परीक्षा  
छात्रों की सुविधा और पेपर लीक से बचाने के लिए जेईई मेन और नीट(यूजी) परीक्षा कंप्यूटर पर ली जाएगी। इसका मतलब यह नहीं कि परीक्षा ऑनलाइन होगी। कंप्यूटर पर प्रश्नपत्र आएगा, जिसे छात्र को हल करना होगा।

ऑफलाइन मोड से परीक्षा देने वाले छात्रों की सुविधा के लिए शनिवार व रविवार को बाकायदा छात्रों को कंप्यूटर पर प्रैक्टिस करवायी जाएगी, जिसमें विशेषज्ञ छात्रों की मदद करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here