राहुल के तूफानी शतक और कुलदीप के पंजे का कमाल, भारत ने इंग्लैंड को 8 विकेट से हराया

0
634

चाइनामैन कुलदीप यादव (24 रन देकर पांच विकेट) की बेहतरीन गेंदबाजी और केएल राहुल के तूफानी शतक (101 रन, 54 गेंद, 10 चौके और पांच छक्‍के ) की बदौलत टीम इंडिया ने अपने इंग्‍लैंड दौरे की शुरुआत जीत के साथ की है. तीन टी20 मैचों की सीरीज के पहले मैच में भारतीय टीम ने आज इंग्‍लैंड को 8 विकेट के बड़े अंतर से पराजित किया.

मैनचेस्टर इंग्लैंड दौरे पर गई टीम इंडिया ने 3 T20I मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में इंग्लैंड को 8 विकेट से मात देकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। इस मैच में कुलदीप यादव की घातक गेंदबाजी के बाद बैटिंग में के एल राहुल के तूफानी शतक की बदौलत टीम इंडिया ने यह जीत दर्ज की। भारत ने 10 बॉल बाकी रहते 2 विकेट पर 163 रन बनाए। सीनियर टीम के साथ पहली बार इंग्लैंड दौरे पर आए राहुल 101* रन बनाकर नाबाद रहे, जो उनका दूसरा T20 इंटरनैशनल शतक है। राहुल ने अपनी इस उम्दा पारी में 54 बॉल खेलकर 10 चौके और 5 छक्के जड़े। राहुल के अलावा रोहित शर्मा ने 32 और कैप्टन विराट कोहली ने नाबाद 20 रन का योगदान दिया।

इससे पहले टॉस हारने के बाद पहले बैटिंग करने आई इंग्लैंड की टीम ने भारत के सामने 160 रन की चुनोती पेश की थी। एक समय बड़े स्कोर की ओर दिख रही इंग्लिश टीम चाइनामैन बोलर कुलदीप यादव के सामने बिखर गई। कुलदीप यादव की धारदार बोलिंग के सामने इंग्लिश बल्लेबाजों की एक न चली और उन्होने अपने 4 ओवर में मात्र 24 रन देकर 5 विकेट झटके। कुलदीप को इस शानदार परफॉर्मेंस के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

कुलदीप के 5 विकेट की बदौलत इंग्लैंड की टीम निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट गंवाकर 159 रन ही जोड़ पाई। इस शानदार प्रदर्शन की बदौलत कुलदीप यादव टी20 इंटरनैशनल क्रिकेट में दुनिया के पहले चाइनामैन बोलर बन गए हैं। कुलदीप के अलावा उमेश यादव ने 2 और हार्दिक पंड्या ने 1 विकेट अपने नाम किया। इंग्लैंड के लिए राहत की बात यह है कि उसके इनफॉर्म बैट्समैन जोस बटलर (69) ने इस मैच में भी फिफ्टी जड़ी। 46 बॉल की अपनी पारी में बटलर 8 चौके और 2 छक्के जड़कर आउट हुए।

India’s Kuldeep Yadav celebrates taking the wicket of England’s Jos Buttler during the Twenty20 cricket match between England and India at Old Trafford cricket ground in Manchester, England, Tuesday, July 3, 2018. (AP Photo/Dave Thompson)

160 रन का लक्ष्य लेकर उतरी टीम इंडिया की शुरुआत कुछ खास नहीं रही और ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन (4) पहले ही ओवर में बोल्ड हो गए। यहां से के. एल. राहुल ने रोहित शर्मा के साथ मिलकर मोर्चा संभाला और दूसरे विकेट के लिए 123 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी ने इंग्लैंड की टीम को मैच से बाहर कर दिया। 32 के व्यक्तिगत स्कोर पर आदिल रशीद ने रोहित शर्मा को जरूर आउट किया, लेकिन तब तक इंग्लैंड के लिए बहुत देर हो चुकी थी और के एल राहुल इस मैच को भारत की जद में ला चुके थे। जब रोहित आउट हुए, तो भारत जीत से 30 रन ही दूर था और बाकी का काम के एल राहुल ने कप्तान विराट कोहली के साथ मिलकर बखूबी पूरा कर लिया।

इससे पहले पहले बैटिंग पर उतरी इंग्लैंड को जॉस बटलर और जैसन रॉय की जोड़ी ने शानदार शुरुआत दी। दोनों बल्लेबाजों ने मिलकर 4.5 ओवर में 50 रन जोड़ लिए। इसी स्कोर पर जैसन रॉय के रूप (30) में उमेश यादव ने इंग्लैंड को पहला झटका दिया। रॉय के बाद दूसरे छोर से बटलर ने कमान अपने हाथ में ली और रन गति को आगे बढ़ाया। इस बीच बटलर ने हार्दिक को छक्का जड़ मात्र 29 बॉल में अपनी फिफ्टी पूरी की। पिछली 8 पारियों में यह उनकी 7वीं फिफ्टी थी। बटलर ने एलेक्स हेल्स के साथ 45 रन की साझेदारी की, लेकिन इस साझेदारी में हेल्स का योगदान सिर्फ 8 रन का ही रहा। यहां कुलदीप यादव ने हेल्स को बोल्ड कर पविलियन भेज दिया।

हेल्स ने 18 बॉल की अपनी पारी में बिना कोई चौका-छक्का जड़े ये 8 रन जोड़े। हेल्स के बाद बटलर का साथ निभाने कप्तान इयोन मॉर्गन क्रीज पर आए। लेकिन मॉर्गन को भी कुलदीप ने क्रीज पर पांव जमाने का मौका नहीं दिया। मॉर्गन (7) ने कुलदीप को बड़ा शॉट लगाने की कोशिश लेकिन डीप मिड विकेट पर खड़े कप्तान विराट कोहली ने उनका आसान सा कैच लपककर उन्हें पविलियन भेज दिया।

मॉर्गन को आउट कर इस ओवर में कुलदीप का कहर यहीं नहीं थमा। उन्होंने इस ओवर में जॉनी बेयरस्टो (0) और जो रूट (0) को गोल्डन डक (पहली बॉल पर आउट) पर आउट कर दिया। यहां से इंग्लिश टीम बिखर गई और उसकी रन गति भी धीमी हो गई। कुलदीप ने अपने स्पेल के चौथे और अंतिम ओवर में जोस बटलर (69) को भी कप्तान विराट कोहली के हाथों आउट करा दिया। इस तरह कुलदीप ने 4 ओवर में 25 रन देकर 5 इंग्लिश बल्लेबाजों को अपना शिकार बना लिया। इंग्लैंड की इस पारी में बटलर और रॉय के बाद डेविड विली (29*) एक मात्र ऐसे बल्लेबाज रहे, जिन्होंने दहाई का अंक छुआ।

एक समय इंग्लैंड का स्कोर 95 रन पर 1 विकेट था, लेकिन कुलदीप के कहर के सामने इंग्लिश टीम ने 22 रन के भीतर अपने 6 विकेट गंवा दिए। इसके बाद डेविड विली ने 15 बॉल में नाबाद 29 रन की पारी खेलकर इंग्लैंड का स्कोर किसी तरह 150 के पार पहुंचा दिया। विली ने अपनी इस पारी 2 चौके और 2 छक्के लगाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here